PPC full form – PPC का फुल फॉर्म क्या होता है?

हेलो दोस्तों, कैसे हो आप लोग? हमें पूरा उम्मीद है की आप सभी काफी अच्छे होंगे। आज के इस पोस्ट में हम PPC के बारे में बात करने वाले है। क्या आज से पहले आपने PPC शब्द को सुना है।

हम आपको बता दे कि PPC शब्द का सबसे ज्यादा इस्तेमाल ऑनलाइन मार्केटिंग में इस्तेमाल किया जाता है। आज के इस पोस्ट में हम PPC के बारे में ही बात करने वाले है, जैसे PPC का फुल फॉर्म, PPC क्या होता है, आदि। PPC से सम्बंधित सभी जानकारी को जानने के लिए आपको इस पोस्ट को पूरा पढ़ना होगा।

PPC का फुल फॉर्म क्या होता है? (What is the full form of PPC?)

PPC के इस लेख में आपको PPC का फुल फॉर्म हिंदी और इंग्लिश में सबसे पहले जान लेना चाहिए ताकि आपको PPC की अन्य जानकारी को जानने और समझने में किसी तरह की कोई परेशानी न आ सके।

PPC का फुल फॉर्म पे पर क्लिक (पे-पर-क्लिक) हिंदी में होता है। PPC full form is Pay-Per-Click इंग्लिश में होता है। इसी PPC को cost-per-click भी कहा जाता है इसका मलतब एक ही होता है।

Full Form Category Term
Preparative Paper Chromatography Chemistry PPC
Phased Provisioning Code Space Science PPC
Photo Persistent Conductivity ElectronicsPPC
PowerPC Information Technology PPC
Practitioners Publishing Company Accounts and Finance PPC
Program To Program Communications NetworkingPPC
Personal and Professional Capabilities Job Title PPC
PIPRAICHIndian Railway Station PPC

PPC क्या होता है? (What is PPC?)

PPC ऑनलाइन/इंटरनेट मार्केटिंग का एक तरीका है। इसमें विज्ञापनदाता (advertiser) पब्लिशर को लिंक पर क्लिक होने पर पैसा देता है। हम आपको बता दे कि यह लिंक विज्ञापनदाता के वेबसाइट का होता है।

वह अपने वेबसाइट पर लोगो को लाना चाहता है इसलिए वह पब्लिशर को अपने साइट का लिंक देता है और वास्तविक मानव के द्वारा क्लिक होने पर पैसे देता है।

पब्लिशर कौन होता है? (Who is the publisher?)

आपके मन में अब एक सवाल आ सकता है कि पब्लिशर कौन होता है? तो हम आपको बता दे कि जिसके पास कोई वेबसाइट या मोबाइल एप्प होता है और उसके वेबसाइट और मोबाइल एप्प के बहुत सारे यूजर होते है उसको पब्लिशर कहा जाता है। सबसे बड़े पब्लिशर सर्च इंजन (गूगल) और सोशल मीडिया (फेसबुक) है।

PPC कैसे काम करता है? (How does PPC work?)

PPC मार्केटिंग के लिए सबसे ज्यादा जरूरी चीज कीवर्ड रिसर्च होता है। PPC में सबसे पहले विज्ञापनदाता कीवर्ड रिसर्च करता है। इसके बाद विज्ञापनदाता अपना कैंपेन शुरू कर देता है।

एक बार विज्ञापनदाता के द्वारा कैंपेन को शुरू कर देने के बाद सर्च इंजन विज्ञापनदाता के द्वारा दिए गए जानकारी और कीवर्ड के हिसाब से तय करता है की किसको यह विज्ञापन देखना सही होगा।

जब को कोई उस कीवर्ड को सर्च करता है तो सर्च रिसर्च में विज्ञापनदाता का विज्ञापन दिखता है। हम आपको बता दें कि हर एक कीवर्ड का अलग-अलग PPC होता है।

PPC को कैसे शुरू करे? (How to start PPC?)

यदि आपका भी कोई बिज़नेस है तो आप भी PPC मार्केटिंग का इस्तेमाल करके अपने बिज़नेस को बढ़ा सकते है। चलिए हम आपको PPC को शुरू करने का तरीका भी बता दे रहे है।

सबसे पहले आपको अपने बिज़नेस को समझना होगा, उसके बाद अच्छे से कीवर्ड रिसर्च करना होगा। कीवर्ड रिसर्च के बाद आप Google Ads पर जाए। वहाँ से आप अपना PPC को शुरू करे। PPC को शुरू करने के लिए आप अपनी साइट या मोबाइल एप्प को जरूर तैयार रखे।

निष्कर्ष

आज के इस पोस्ट में हमने PPC के बारे में जाना है। हमने इस लेख में जाना कि PPC का फुल फॉर्म क्या होता है, PPC कैसे काम करता है, PPC क्या होता है, आदि। यदि आपके मन में अभी भी कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते है।

पीपीसी फुल फॉर्म FAQ’s

पीपीसी का फुल फॉर्म पे पर क्लिक (पे-पर-क्लिक) हिंदी में होता है। पीपीसी full form is Pay-Per-Click इंग्लिश में होता है। इसी पीपीसी को cost-per-click भी कहा जाता है इसका मलतब एक ही होता है।
पीपीसी ऑनलाइन/इंटरनेट मार्केटिंग का एक तरीका है। इसमें विज्ञापनदाता (advertiser) पब्लिशर को लिंक पर क्लिक होने पर पैसा देता है।

और पढ़े ::

IG full form – IG का फुल फॉर्म क्या होता है?

Leave a comment

error:
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Refresh