IP full form – IP का फुल फॉर्म क्या होता है?

हेलो दोस्तों, आप सभी लोग कैसे हो? हमें पूरा उम्मीद है आप सभी काफी अच्छे होंगे। आज के इस पोस्ट में हम IP के बारे में बात करने वाले है। यदि आप इंटरनेट का इस्तेमाल करते है तो आपने IP शब्द को जरूर ही सुना होगा।

इंटरनेट के अलावा IP शब्द खबरों में भी सुनने को मिलता है। हमारा आपसे एक सवाल है क्या आपको IP का फुल फॉर्म पता है या IP क्या होता है यह जानते है?

आज के इस लेख में हम IP की पूरी जानकारी देने वाले है, इस जानकारी को जानने के लिए आपको इस लेख को एक बार पूरा जरूर पढ़ना होगा।

Advertisements

यह भी पढ़े: SSL full form

IP का फुल फॉर्म क्या होता है? (What the full form of IP?)

IP के बारे में बात करने से पहले आपको हम IP का फुल फॉर्म हिंदी और इंग्लिश दोनों में बता दे रहे है। IP का फुल फॉर्म जान लेने के बाद आपको IP की अन्य जानकारी को जानने में किसी तरह कोई परेशानी नहीं होगी।

IP का फुल फॉर्म इंटरनेट प्रोटोकॉल हिंदी में होता है। IP full form is Internet Protocol इंग्लिश में होता है।

Full FormCategoryTerm
Instrument PanelSpace ScienceIP
Imaging PlateElectronicsIP
Igloo PalletSpace ScienceIP
Initial PointSpace ScienceIP
Intelligent PeripheralComputer and NetworkingIP
Inch-poundMeasurement UnitIP
IntraperitonealMedicalIP
Inspection Procedures (nrc Inspection Manual)File TypeIP
Internet PacketNetworkingIP
Intellectual PropertyInformation TechnologyIP
ImmunoprecipitationChemistryIP
Internet ProtocolInformation TechnologyIP
Data (interactive Physics)File TypeIP
Inertial ProcessingSpace ScienceIP

IP क्या होता है? (What is IP?)

IP एक अद्वितीय पता ( unique address) होता है। IP की मदद से दो या दो से अधिक कंप्यूटर को आपस में जोड़ा जाता है या किसी कंप्यूटर/मोबाइल को इंटरनेट से जोड़ा जाता है।

इसकी मदद से इंटरनेट पर किसी भी उपकरण का स्थान पता लगाया जाता है। हर एक उपकरण जो इंटरनेट से जुडा हुआ होता है उसका एक IP address होता है और यह सभी का अलग-अलग होता है।

IP की मदद से ही डाटा को इंटरनेट पर डाला जाता है और डाउनलोड भी किया जाता है।

IP address का उदाहरण (IP address example)

चलिए अब हम आपको IP address का उदाहरण भी बता दे रहे है। IP address कुछ इस तरह से होता है 192.0.2.1, 2001:db8:0:1234:0:567:8:1. हम आपको बता दे कि हर एक वेबसाइट का भी खुद का IP address होता है। Google का IP address 142.250.72.100 है। यदि आप अपने ब्राउज़र में इसको लिखेंगे तो आप सीधे Google.com पर चले जाएगें।

IP का इस्तेमाल क्या है? (What is the use of IP?)

  • एक या एक से अधिक कंप्यूटर को आपस में जोड़ने में।
  • किसी उपकरण को इंटरनेट से जोड़ने के लिए।
  • किसी सर्वर का एक्सेस यूजरों को देने के लिए।
  • किसी भी वेबसाइट या मोबाइल एप्प को इंटरनेट पर लाइव करने के लिए।
  • किसी भी उपकरण का लोकेशन पता लगाने के लिए।

IP का महत्व (Importance of IP)

यदि आपके मन में यह विचार आ रहा है कि IP का महत्व क्या है तो चलिए अब हम आपको IP का महत्व भी बता दे रहे है।

बिना IP के इंटरनेट अधूरा है। यदि IP नहीं हो तो इंटरनेट नहीं होगा और न ही किसी कंपनी का ढेर सारे कंप्यूटर एक साथ काम पर पाएगे। IP की मदद से ही वेबसाइट भी होते है।

खुद का IP कैसे जाने? (How to know own IP?)

यदि आप खुद का IP जानना चाहते है तो यह भी आसान है। इसके लिए आप Google में “my ip address” लिख करके सर्च करे।

यदि आप चाहे तो whatismyipaddress.com , ip2location.com/demo पर भी जा सकते है। यहाँ से आपके नेटवर्क प्रोवडेर का नाम और आपका लोकेशन भी देखने को मिल जाएगा।

किसी वेबसाइट का IP कैसे जाने? (How to know the IP of a website?)

बहुत से लोग किसी वेबसाइट का IP जानना होता है लेकिन वह नहीं जान पाते है।चलिए हम इसका भी तरीका आपको बता दे रहे है। किसी भी वेबसाइट का IP जानने के लिए आप सबसे पहले hostingchecker.com पर जाए।

वहाँ पर आप उस साइट का यूआरएल दर्ज करे जिसका आपको IP जानना है। इसके बाद आपको उस साइट का IP आपको देखने को मिल जाएगा।

निष्कर्ष

तो दोस्तों, आज के इस पोस्ट में हमने क्या जाना? इस पोस्ट की मदद से हमने IP के बारे में जाना है जैसे- IP क्या होता है, IP का फुल फॉर्म क्या होता है, IP का महत्व, खुद का IP कैसे जाने, किसी वेबसाइट का IP कैसे जाने, आदि।

हमने अपनी तरफ से आपको IP की पूरी जानकारी दी है। यदि अभी भी आपके मन में IP से जुड़ा कोई सवाल है तो आप हमसे कमेंट करके पूछ सकते है।

आईपी फुल फॉर्म FAQ’s

आईपी का फुल फॉर्म इंटरनेट प्रोटोकॉल हिंदी में होता है। आईपी full form is Internet Protocol इंग्लिश में होता है।
आईपी एक अद्वितीय पता ( unique address) होता है। आईपी की मदद से दो या दो से अधिक कंप्यूटर को आपस में जोड़ा जाता है या किसी कंप्यूटर/मोबाइल को इंटरनेट से जोड़ा जाता है।
एक या एक से अधिक कंप्यूटर को आपस में जोड़ने में। किसी उपकरण को इंटरनेट से जोड़ने के लिए। किसी सर्वर का एक्सेस यूजरों को देने के लिए। किसी भी वेबसाइट या मोबाइल एप्प को इंटरनेट पर लाइव करने के लिए। किसी भी उपकरण का लोकेशन पता लगाने के लिए।

और पढ़े ::

TGT full form – TGT का फुल फॉर्म क्या होता है?

PPC full form – PPC का फुल फॉर्म क्या होता है?