भारत में सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन कौन सा है | India ka Sabse bada Railway Station

हेलो दोस्तों कैसे हो मुझे उन्मीद हे की आप सब ठीक होंगे तो आज हम आपको डिटेल के साथ बताने वाले हे की भारत में सबसे बड़ा स्टेशन कौन सा है? तो चलिए सुरु करते है।

गोरखपुर रेलवे स्टेशन उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा और व्यस्ततम रेलवे स्टेशन है। यह स्टेशन गोरखपुर शहर में स्थित है, जो गोरखपुर के पूर्वी उत्तर प्रदेश जिले की राजधानी है।

स्टेशन में छह प्लेटफार्म हैं और यह बड़ी मात्रा में यातायात को संभालता है। भारतीय रेलवे का गोरखपुर-कानपुर खंड, जो भारत के सबसे महत्वपूर्ण रेल मार्गों में से एक है, गोरखपुर रेलवे स्टेशन से होकर गुजरता है।

गोरखपुर रेलवे स्टेशन भारत का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन है और सबसे व्यस्त में से एक है। यह एक दिन में दो मिलियन से अधिक यात्रियों को संभालता है। स्टेशन 1895 में बनाया गया था और यह उत्तर प्रदेश के गोरखपुर शहर में स्थित है।

सुविधाएं एवं सेवाएं

गोरखपुर रेलवे स्टेशन उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन है। स्टेशन में एक कैफेटेरिया, एक बैंक और एक होटल जैसी सुविधाएं हैं। इसमें यात्रियों के इंतजार के लिए कई प्लेटफॉर्म भी हैं। स्टेशन पर ट्रेनों की बुकिंग और टिकटिंग जैसी कई सेवाएं भी हैं। रेलवे स्टेशन में फूड कोर्ट, फार्मेसी और किताबों की दुकान सहित कई सुविधाएं हैं। यह शहर के केंद्र के करीब भी है और इसमें कई प्रकार की सेवाएं उपलब्ध हैं, जो इसे ट्रेन पकड़ने के लिए एक आदर्श स्थान बनाती हैं।

कैसे पहुंचा जाये

स्टेशन हावड़ा-दिल्ली लाइन पर स्थित है और इसमें छह प्लेटफॉर्म हैं। मुख्य प्रवेश द्वार गांधी रोड से है। स्टेशन से लगभग 2 किमी की दूरी पर स्थित गोरखपुर जंक्शन, पूर्वी और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बीच यात्रा करने वाली ट्रेनों के लिए एक प्रमुख इंटरचेंज के रूप में कार्य करता है।

इतिहास

दुनिया का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन शंघाई पुडोंग अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा है। यह प्रति वर्ष प्रभावशाली 54 मिलियन यात्रियों को संभालता है। यह स्टेशन 1873 में बनाया गया था और वर्तमान में यह चीन का सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशन है।

ट्रेन सेवाएं

रेलवे स्टेशन क्षेत्रीय ट्रेनों से लेकर हाई-स्पीड ट्रेनों तक कई तरह की ट्रेन सेवाएं प्रदान करता है। स्टेशन कुछ लंबी दूरी के मार्गों के लिए टर्मिनस भी है। देश के अन्य हिस्सों और पड़ोसी देशों से लगातार संबंध हैं।

स्टेशन लेआउट

गोरखपुर रेलवे स्टेशन एक बहुत ही भ्रमित करने वाली जगह है। स्टेशन का लेआउट बहुत भ्रमित करने वाला है। आपको कहां जाना है, यह बताने वाले कोई संकेत नहीं हैं। अपना रास्ता खोजना मुश्किल है। प्लेटफार्म भी बहुत छोटे और भीड़भाड़ वाले हैं।

भारत में कुल कितने रेलवे स्टेशन है?

भारत में कुल 8,338 रेलवे स्टेशन हैं। ये स्टेशन देश की परिवहन व्यवस्था की रीढ़ के रूप में काम करते हैं और यात्रियों और मालगाड़ियों दोनों द्वारा उपयोग किए जाते हैं। इनमें से अधिकतर स्टेशन प्रमुख शहरों और कस्बों में स्थित हैं, लेकिन देश भर में बिखरे हुए ग्रामीण स्टेशनों की एक महत्वपूर्ण संख्या भी है।

भारत में पहला रेलवे स्टेशन 1853 में बॉम्बे (अब मुंबई) में बनाया गया था। तब से, नेटवर्क का तेजी से विस्तार हुआ है और आज देश भर में 8,338 से अधिक स्टेशन हैं। सुविधाओं की यह विशाल श्रृंखला यात्रियों के लिए भारत में लगभग कहीं भी आसानी से यात्रा करना संभव बनाती है। रेलवे छोटे शहरों और गांवों को बड़े शहरी केंद्रों से जोड़ने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

रेलवे स्टेशन आकार और लेआउट के मामले में काफी भिन्न हैं, लेकिन सभी में कई सुविधाएं हैं जो उन्हें यात्रियों के लिए उपयोगी केंद्र बनाती हैं।

भारत का सबसे छोटा जंक्शन कौन सा है?

पेनुमुरु रेलवे स्टेशन भारत का सबसे छोटा जंक्शन है, जो पूर्व से पश्चिम तक सिर्फ 2.5 किमी की दूरी पर है। एक बार की बात है, इस रेलवे स्टेशन का उपयोग केवल ईस्ट कोस्ट रेलवे और पश्चिमी घाट के बीच यात्रा करने वाली मालगाड़ियों द्वारा किया जाता था। हालांकि, इस क्षेत्र में रोडवेज के विकास के साथ, पेनुमुरु में यात्री यातायात कई गुना बढ़ गया है। आज, पेनुमुरु अपने प्राकृतिक परिवेश और आंध्र प्रदेश के प्रमुख शहरों और शहरों से निकटता के कारण एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है।

भारत का पहला रेलवे स्टेशन कौन सा है?

भारत का पहला रेलवे स्टेशन रॉयलपुरम रेलवे स्टेशन था। यह 1 नवंबर 1853 को ब्रिटिश भारत के तत्कालीन गवर्नर जनरल लॉर्ड डलहौजी द्वारा खोला गया था।

निष्कर्ष

अंत में, गोरखपुर रेलवे स्टेशन बहुत सारी सुविधाओं वाला एक व्यस्त रेलवे स्टेशन है। हालांकि, रेलवे स्टेशन का लेआउट पहली बार आने वाले आगंतुकों के लिए भ्रमित करने वाला हो सकता है। मेरा सुझाव है कि आप अपनी यात्रा से पहले रेलवे स्टेशन के नक्शे पर एक नज़र डालें ताकि आप जान सकें कि आप कहाँ जा रहे हैं।

इसे भी पढ़े :

सबसे बड़ा ग्रह कौन सा है?
Prithvi ka Sabse Bada Bridge Kaun sa hai ?