दुनिया का सबसे बड़ा मंत्र कौन सा है ?

दोस्तो अगर आप जनाना चाहते है कि सबसे बड़ा मंत्र कौन सा है तो आप सही जगह आए है आपके सवालों का जवाब आपको यहां मिल जायेगा तो चलिए जानते है कि दुनिया का सबसे बड़ा मंत्र कौन सा है?

दुनिया का सबसे बड़ा मंत्र कौन सा है ?

दुनिया का सबसे बड़ा मंत्र कोई भी नहीं है। ऐसा इसलिय क्यूँकि सभी मंत्रो का अपना अपना महत्व होता है। फिर भी हिंदू धर्म के अनुसार दो सबसे बड़े और शक्तिशाली मंत्र हैं गायत्री मंत्र और महामृत्युंजय मंत्र। इन दोनो ही मंत्रों की शक्ति काफ़ी ज़्यादा होती है। और गायत्री मंत्र को हिंदू धर्म में सबसे बड़ा बताया गया है तो चलिए इसका कारण भी जान लेते है।

दुनिया का सबसे बड़ा धर्म कौन सा है

विश्व का सबसे महान धर्म कौन सा है?

सबसे बड़ा मंत्र कौन सा है

गायत्री महामंत्र वेदों का एक महत्त्वपूर्ण मंत्र है जिसकी महत्ता ॐ के लगभग बराबर मानी जाती है। यह यजुर्वेद के मंत्र ॐ भूर्भुवः स्वः और ऋग्वेद के छंद 3.62.10 के मेल से बना है। ऐसा माना जाता है कि इस मंत्र के उच्चारण और इसे समझने से ईश्वर की प्राप्ति होती है। गायत्री मन्त्र से निकली तरंगे ब्रह्माण्ड में जाकर बहुत से दिव्य और शक्तिशाली अणुओं और तत्वों को आकर्षित करके जोड़ देती हैं और फिर पुनः अपने उदगम पे लौट आती है जिससे मानव शरीर दिव्यता और परलौकिक सुख से भर जाता है ।

कोई भी अनुष्ठान गायत्री मंत्र के बिना पूरा नहीं माना जाता है। शिक्षा, एकाग्रता और ज्ञान के लिए गायत्री मंत्र सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। शास्त्रों के अनुसार आकाशवाणी से ही सृष्टि के रचयिता को गायत्री मंत्र प्राप्त हुआ था। गायत्री मंत्र को सभी मंत्रों में सबसे शक्तिशाली माना जाता है।

गायत्री मंत्र मुख्यतः वेदों की रचना है। ये यजुर्वेद और ऋग्वेद के दो भागों से मिलकर बना है। इस मंत्र के जाप से भौतिक और आध्यात्मिक दोनों तरह की उपलब्धियां प्राप्त होती हैं। शिक्षा, एकाग्रता और ज्ञान के लिए गायत्री मंत्र सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। शास्त्रों के अनुसार आकाशवाणी से ही सृष्टि के रचयिता को गायत्री मंत्र प्राप्त हुआ था। गायत्री मंत्र को सभी मंत्रों में सबसे शक्तिशाली माना जाता है। इस मंत्र का जाप करने के कुछ नियम होते हैं, तभी इसका प्रभाव देखने को मिलता है।

गायत्री मंत्र को जो भी दिन में तीन बार पढ़ता है, उसके ऊपर भगवान की कृपा अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य, धन, सौदर्य और शक्‍ति के रूप में बरसती है। सूर्योदय से दो घण्टे पूर्व से सूर्यास्त के एक घंटे बाद तक कभी भी गायत्री उपासना की जा सकती है । मौन-मानसिक जप चौबीस घण्टे किया जा सकता है । माला जपते समय तर्जनी उंगली का उपयोग न करें तथा सुमेरु का उल्लंघन न करें ।

विश्व का सबसे पुराना धर्म कौन सा है

हिंदुओं का सबसे बड़ा त्यौहार कौन सा है

दोस्तो अब आप समझ गए होंगे की सबसे बड़ा मंत्र कौन सा है? तो वो है गायत्री मंत्र हमने गायत्री मंत्र से होने वाले फायदे भी आपको बताए है तो आपको नित्य प्रतिदिन गायत्री मंत्र का उच्चारण करना चाहिए । अगर इस लेख सबसे बड़ा मंत्र कौन सा है ? से जुड़ा आपका कोई सवाल जवाब हो तो हमें कॉमेंट कर सकते है।