CGL full form – CGL का फुल फॉर्म, परीक्षा और आयोजन हिंदी में।

Advertisements

नमस्कार दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम बात करेंगे CGL के बारे में तथा CGLके बारे में अन्य जानकारियां जैसे CGL का फुल फॉर्म क्या होता है? CGL क्या होता है? CGLकी शुरुआत कब हुई थी, CGL की शुरुआत किसने की थी, आदि। इन सभी चीजों को जानने से पहले आपका यह जान लेना अति आवश्यक है कि CGL एक प्रकार की परीक्षा होती है।

आगे इसी प्रकार की अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां हम आपको आज की इस पोस्ट में देंगे। तो आइए बिना समय बर्बाद किए हम आपको आज की इस पोस्ट जिसका शीर्षक है CGL इसके बारे में आप को विस्तार पूर्वक बताते हैं।

CGL का फुल फॉर्म क्या है? (What is the full form of CGL?)

CGL का फुल फॉर्म कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल हिंदी में होता है। CGL full form is Combined Graduate Level इंग्लिश में होता है। CGL का हिंदी अर्थ संयुक्त स्नातक स्तर होता है ।

CGL क्या होता है? (What is CGL?)

CGL का मतलब संयुक्त स्नातक होता है। यह कर्मचारी चयन आयोग द्वारा प्रत्येक वर्ष आयोजित किया जाने वाली सबसे अधिक मांग वाली परीक्षाओं में से एक है। इसे SSC CGL ( कर्मचारी चयन आयोग- संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा) के नाम से भी जाना जाता है। यह परीक्षा ऑनलाइन आयोजित की जाती है।

CGL परीक्षा किन-किन चरणों में पूरी होती है? (In which phases the CGL exam is completed?)

ये परीक्षा निम्नलिखित चार चरणों में पूरी होती है जो कि इस प्रकार है:-

  • प्रारंभिक परीक्षा -यह परीक्षा 60 मिनट की अवधि के साथ होती है ।
  • मुख्य परीक्षा -यह परीक्षा 120 मिनट की अवधि के साथ होती है ।
  • वर्णनात्मक परीक्षा- यह परीक्षा भी 60 मिनट की अवधि के साथ होती है ।
  • तथा अंतिम परीक्षा कंप्यूटर प्रवीणता परीक्षा ज्ञान कौशल परीक्षा- यह परीक्षा 45 मिनट की अवधि के साथ होती है ।

CGL का आयोजन कब और किसके द्वारा किया जाता है? (When and by whom is the CGL organized?)

CGL का आयोजन ग्रुप बी और ग्रुप सी पदों सहित भारत सरकार के मंत्रालयों, सरकारी विभागों और अन्य संगठनों में विभिन्न पदों पर कर्मचारियों की भर्ती के लिए किया जाता है। इसे 1975 में स्थापित किया गया था।

CGL परीक्षा के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए? (What is the eligibility for CGL exam?)

उम्मीदवार को प्रासंगिक विषय में स्नातक की डिग्री के साथ भारत का नागरिक होना चाहिए। SSC द्वारा SSC CGL भर्ती के लिए आयु सीमा में वृद्धि की गई है;  हालांकि, उम्र पोस्ट से पोस्ट में भिन्न होती है।

SSC CGL के लिए आवश्यक न्यूनतम आयु 27 वर्ष है, और अधिकतम आयु सीमा 32 वर्ष है।

SSC CGL परीक्षा में परीक्षार्थियों के लिए वेतन स्तर (Pay Level for Exam Takers in SSC CGL Exam)

विभिन्न नौकरी पदों के लिए SSC CGL वेतन बनाने के लिए कई कारक ध्यान में आते हैं। इनमें प्रमुख रूप से वेतन स्तर और शहर (XYZ) शामिल हैं। आइए पहले इस वर्गीकरण को समझते हैं। SSC CGL वेतन स्तर –

SSC CGL की सैलरी को अलग-अलग पदों के हिसाब से पांच लेवल में बांटा गया है। विभिन्न वेतन स्तरों का वर्णन नीचे किया गया है।

SSC CGL वेतनमान (रुपये में)

  • प्रथम: 25,500-81,100
  • दितीय: 29,200-92,300
  • तृतीय: 35400-1,12,400
  • चतुर्थ: 44,900-1,42,400
  • पंचम: 47,600-1,51,100

निष्कर्ष (Conclusion)

तो दोस्तों हमें उम्मीद है कि आज की इस पोस्ट में हमारे द्वारा दी गई जानकारियां जैसे CGL का फुल फॉर्म क्या है? CGL क्या होता है? CGL के लिए क्या-क्या योग्यताएं होनी चाहिए? तथा इसी प्रकार की हमारे द्वारा दी गई अन्य जानकारियों से आप अवश्य लाभान्वित हुए होंगे।

हम आगे भी अपनी पोस्ट के माध्यम से आपके सवालों के समाधान ढूंढने में आपकी मदद करते रहेंगे- धन्यवाद।

CGL FAQ’s

Assistant audit Officer, Income Tax inspector, Assistant, Central Excise inspector, Sub inspector बनते है?
सीजीएल की फुल फॉर्म Combined Graduate Level होती है.
सीजीएल का आयोजन ग्रुप बी और ग्रुप सी पदों सहित भारत सरकार के मंत्रालयों, सरकारी विभागों और अन्य संगठनों में विभिन्न पदों पर कर्मचारियों की भर्ती के लिए किया जाता है। इसे 1975 में स्थापित किया गया था।

इसे भी पढ़े :

SBI PO EXAM क्या है, SBI PO परीक्षा की प्रक्रिया हिंदी में!